ऑफिस वाली सेक्सी माया – पार्ट २

दोस्तों, मेरा नाम अमित शर्मा है ओर मैं जयपुर राजस्थान का रहने वाला हू. मेरी उम्र ३१ साल है ओर मैं एक मल्टिनॅशनल मैं अच्छे पद पर हू. ये मेरी अंतर्वनसा पर पहली कहानी हैं ओर पूरी तरह काल्पनिक हैं. अगर कुछ भूल हुई हो तो माफ़ कीजिएगा ओर अपने विचार भेजना ना भूलिएगा. Is sex kahani me Maya ki xxx chudai jo humne ki office me, uska maza lijiye aur apne desi lund hilaiye! मेरा ईमेल हैं iamamit0212 [at ]gmail.com.

घर पोहोच के माया सीधे नहाने चली गई. आज जो कुछ भी हुआ उसकी आखो के आगे घूम रहा था. वो सोच रही थी के आने वाला हफ्ता पता नहीं कैसे निकलेगा. “बिना ब्रा पेंटी के ऑफिस कैसे जाउंगी में. अंकित को क्या कहूँगी. किसी को पता लग गया तो क्या होगा. मुझे कुछ भी कर के वो फोटो वापस लेनी होगी अमित से” माया खुद से बात करते हुए नहाने लगी. शावर चालू कर के जैसे ही माया के बदन पे ठंडा पानी पड़ने लगा, उसे अच्छा लगने लगा.

XXX Office Sex Kahani > ऑफिस वाली सेक्सी माया

“आज सुमित को में नहीं रोकती तो ना जाने क्या होता” माया की आखों के सामने वो मंजर आ गया. “उफ्फ्फफ्फ्फ़. सुमित के हाथ मेरी जांघो को कैसे सहला रहे थे.” माया ने अपना सर नीचे किया, और उसे लगा जैसे सुमित अब भी नीचे बैठा है अपने घुटनो के बल. माया को सुमित की साँसे अपने पेट पर महसूस होने लगी और उसका हाथ अपने आप उसकी चुत पे चला गया. “उस्मान का सीना कितना चौड़ा था. और सुमित की साँसे कितनी गरम.” सोचते हुए माया की उंगलिया तेज़ तेज़ चलने लगी. “उस हरामी उस्मान को मेरे चुच्चो को अच्छे से महसूस किया होगा. क्या उसने मेरे मम्मो को छुआ भी था?? छुआ ही होगा.

कौन रह सकता हे इन मम्मो से दूर.” सोचते हुए माया अपने मम्मो को दबाने लगी. अब उसकी उंगलिया चुत के ऊपर दाने को रगड़ रही थी जो बोहोत देर से फड़क रहा था. “उउउउम्मम्म आआअह्ह्ह्हह सीईई आआआआह्ह्ह्हह्ह्ह्ह” कहते हुए माया झड़ने लगी. माया की आखें बंद होने लगी और वो नीचे बैठ गई. लेकिन माया की चुत में अभी भी आग लगी थी. माया नाहा के बाहर निकली और एक सेक्सी सी मैक्सी पहन के बैडरूम में घुस गई. उसने अंकित के कलेक्शन में से एक पोर्न मूवी चला ली और अंकित का इंतज़ार करने लगी.

XXX Office Sex Kahani > मेरी माँ की मोटी गांड

कुछ देर बाद अंकित अपनी चाबी से दरवाजा खोल के घर में घुसा. उसे बैडरूम में से कुछ जानी पहचानी आवाज आने लगी और वो बैडरूम की तरफ बढ़ चला. जैसे जैसे अंकित बैडरूम के पास जाने लगा, उसका शक यकीन में बदल गया. उसे पता था क माया कभी कभार ही पोर्न देखती हे. बैडरूम के बाहर पोहोच के अंकित ने अपने कपडे उतर दिया. अब वो पूरी तरह नंगा था और उसका लैंड पुरे शबाब पे था. अंकित ने धीरे से दरवाजा खोला और उसकी आखे बड़ी हो गई. सामने टीवी पर उसकी पसंदीदा पोर्न चल रही थी जिसमे Jenna Jameson को २ हब्शी चोद रहे थे.

और बिस्तर पे उसकी सेक्सी बीवी अपनी टांगी फैलाए चुत में ऊँगली डाल के अपनी गांड हिला रही थी. अंकित बिना कुछ बोले अंदर चला गया. माया की आखें बंद थी और चुत में से इतना पानी निकल रहा था के चद्दर पे निशान बन गया था. पुरे कमरे में जानी पहचानी खुशबू फैली हुई थी. अंकित ने एक लम्बी सांस ली और माया की चुत पे अपनी जीभ टिका दी. माया ने चौक के अपनी आखें खोली लेकिन अगले ही पल वापस बंद कर ली.

अब अंकित माया के दाने को जीभ से चाट रहा था और साथ ही साथ चूस भी रहा था. माया ने अंकित के बाल कास के पकड़ रखे थे. अंकित ने माया की मैक्सी के अंदर से हाथ डालते हुए माया के दोनों चुच्चे पकड़ लिए. इस दोहरे हमले को माया सह नहीं पाई और चिल्ला चिल्ला के झड़ने लगी “अंकितपपपप आआअह्ह्ह और जोर से चाटो. और चाटो मेरे राजा. खा जाओ मेरी चुत को.

XXX Office Sex Kahani > रेशमा भाभी की गोरी चूत

आआअह्ह्ह्हह्ह्ह्ह स्स्सस्स्स्सस्स्सस्स्स्सस्स्सस्स्स्सस्स्सस्स्स्स “. अब अंकित माया की गांड से लेकिन चुत तक धीरे धीरे अपनी जीभ चलने लगा. जैसे ही तूफ़ान शांत हुआ माया ने अंकित को बिस्तर पे लेटा दिया और उसका पूरा का पूरा लंड मुँह में भर के कस कस के चूसने लगी. अंकित की आखें बंद हो चुकी थी और वो जन्नत में था. माया को पता था अंकित को क्या चाहिए. माया ने अंकित का लोडा अपने मुँह से बाहर निकला और अंकित के टट्टों को अपने मुँह में भर लिया. कुछ देर उन्हें चूसने के बाद अब माया अंकित के लंड को चाटने लगी.

माया अब टट्टों से लेकर सुपरे तक अंकित का लंड चाट रही थी और टट्टों को अपने कोमल हाथो से दबा भी रही थी. अंकित बिस्तर पे पड़ा हुआ बस आहे भर रहा था. माया ने फिर से अंकित का पूरा लंड निगल लिया. माया की इस जोरदार चुसाई से अंकित की हालत ख़राब थी. उसने अपने हाथ आगे बढ़ा के माया के बोबे अपने हाथो में भर लिए और निचोड़ने लगा और बीच बीच में माया के निप्पल भी खीच देता. इससे माया का मज़ा और भी बढ़ गया और उसने एक ऊँगली अंकित की गांड में घुसा दी. अंकित के लिए ये पहली बार था और इसलिए उसे थोड़ा दर्द तो हुआ, लेकिन माया की चुसाई की वजह से उसे मज़ा आने लगा.

माया अंकित की अपनी ऊँगली से चोदने लगी और अंकित ज्यादा देर टिक ना सका. अंकित ने अपना सारा माल माया के मुँह में ही निकल दिया और माया ने एक बून्द भी बाहर नहीं निकलने दी. अंकित ना जाने कितनी देर तक झाड़ता रहा. कुछ देर बाद जब माया सारा रास पि चुकी थी, वो उठी और अंकित के ऊपर आ गई.

XXX Office Sex Kahani > अजनबी से मुलाकात, दोस्ती, प्यार और चुदाई

“क्या बात है जान, आज जैसे तो तुमने कभी लोडा नहीं चूसा.”अंकित माया को चूमते हुए बोला. “तुम्हे कोई शिकायत हे क्या” माया ने इठलाते हुए जवाब दिया. “शिकायत तो तब भी नहीं की जब तुमने मेरी गांड में ऊँगली डाल दी. आज मुझे भी अपनी गांड मार लेने दो.” अंकित माया की गांड दबाते हुए बोला. “तुम्हे पता है ना अंकित मुझे ये अच्छा नहीं लगता. चलो अब मूड मत ख़राब करो और जल्दी से मुझे चोदो. बोहोत परेशान कर रखा है इस निगोड़ी चुत ने” कहते हुए माया ने अंकित का लंड अपनी चुत पे सेट किया और धीरे धीरे नीचे होने लगी. माया की चुत पहले से ही गीली थी और अंकित का लंड चुत में समता गया.